Friday, January 22, 2021
Home राजनीति केंद्र सरकार नई कृषि कानून को रद करे सईद खां

केंद्र सरकार नई कृषि कानून को रद करे सईद खां

कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर भाकपा (माले) ने की परिचर्चा

मीनू बरकाती
पूरनपुर:शेरपुर कलां में ईदगाह मैदान भाकपा माले पार्टी ने गांव बालो से परिचर्चा की जिसमे गांव वालों को संबोधित करते हुए कहा मोदी सरकार द्वारा संविधान व लोकतंत्र की हत्या करके बनाए गए तीन किसान विरोधी कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग की है। आवश्यक वस्तुओं की हो रही कालाबाजारी उन्होंने कहा कि तीनों काले कानूनों पर किसानों का पक्ष पूरी तरह सही है. उनका कहना पूरी तरह जायज है कि ये कानून खेती व किसानी को चौपट कर कारपोरेटों का गुलाम बनाने वाली नीतियां हैं. आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत आलू-प्याज जैसे आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी और कालाबाजारी नहीं हो सकती थी, लेकिन अब उसका दरवाजा खोल दिया गया है. अब पूंजीपति सस्ते दर पर किसानों का सामान खरीदेंगे और और फिर महंगा बेचेंगे. उन्हें मुनाफा कमाने की छूट मिल गई है.
सईद खां ने कहा कि किसानों की मांग थी कि सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य की गांरटी करे. खेती के लागत का डेढ़ गुनी कीमत तय करने की सिफारिश स्वामीनाथन आयोग ने की थी, लेकिन सरकार उसे केवल कागज पर लागू कर रही है, जमीन पर वह कहीं लागू नहीं है. यह किसानों के साथ बड़ा धोखा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments