Wednesday, September 22, 2021
Homeबिहारअब किसी भी सूरत में एमआरपी से अधिक मूल्य पर खाद की...

अब किसी भी सूरत में एमआरपी से अधिक मूल्य पर खाद की बिक्री नहीं होगी-डीएम

डॉ शशि कांत सुमन
मुंगेर। संग्रहालय सभागार में जिला पदाधिकारी नवीन कुमार ने सरकारी योजनाओं एवं कार्यालयों के लिए जमीन चिह्नित करने की सिलसिले में संबंधित पदाधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि जिले में कई विकास कार्य धीमी प्रगति या नहीं हो पा रही है। इसके पीछे मुख्य कारण उनके भवन के लिए जमीन की कमी है। इसलिए जमीन को खोजने एवं उन्हें संबंधित विभाग को उपलब्ध कराना अंचलाधिकारी की प्राथमिक दायित्व है। उन्होंने आवास योजना, सामुदायिक शौचालय एवं पंचायत सरकार भवन के निर्माण हेतु जमीन की अनुपलब्धता पर समीक्षा की। सामुदायिक शौचालय निर्माण जिले में 200 इकाई बनाया जाना है। जिला समन्वयक लोहिया स्वच्छ भारत मिशन को टूर प्रोग्राम के साथ क्षेत्र भ्रमण करने तथा प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी से क्रमशः कार्य प्रगति एवं जमीन उपलब्धता के संबंध में समन्वय स्थापित कर कार्य तेजी से कराने का निर्देश दिया। एक माह में सभी शेष 200 इकाई के लिए जमीन खोजकर कार्य प्रारंभ कराये। प्रखंड समन्वयक लगातार धूम कर संबंधित पदाधिकारियो से संपर्क स्थापित कर जमीन ढूढ़े। आवास सहायक को भी प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत लाभुकों को आवास मुहैया कराने में जमीन चिह्नित करने का निर्देश दिया गया। सदर अंचलाधिकारी को भूमिहीन को बसाने के लिए जमीन खोजने का निर्देश दिया। जानकीनगर पंचायत में कुछ भूमिहीन डिस्ट्रीक बोर्ड के जमीन पर आवासित है। जिला पदाधिकारी ने कहा कि सभी अंचलाधिकारी को जमीन के अभाव में कोई भवन या प्रोजेक्ट नहीं रूके। इसलिए 10 दिनों में विभिन्न योजनाओं के लिए प्राप्त सूची के साथ कार्य करे तथा जमीन उपलब्ध कराये। अगस्त माह के अंतिम तक किसी भी योजना या कार्यालय भवन के लिए जमीन की आवश्यकता शेष न रहे। जिला कृषि पदाधिकारी को पुनः निदेशित किया गया कि किसान सम्मान निधि योजना में आवेदन की संख्या को बढ़ाये। कृषि संबंधी योजनाओं के बारे में विस्तार से बताये। उर्वरक निगरानी कमिटी बनाई गयी है। अब किसी भी सूरत में एमआरपी से अधिक मूल्य पर खाद की बिक्री नहीं करनी है। अन्यथा सख्त कार्रवाई की जायेगी। अंचलाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी, अपर समाहर्ता इसपर सतत निगरानी बनाये रखेगे। जिला कृषि पदाधिकारी को निदेश दिया गया कि अनुमंडल पदाधिकारी को अधिकृत खाद दुकानों की सूची उपलब्ध करा दे। खाद दुकानों के स्टॉक सूची का दर के साथ मिलान करे। पॉश मशीन से बिक्री किया जाना है। बैठक में अपर समाहर्ता विद्यानंद सिंह, उप विकास आयुक्त संजय कुमार, जिला कृषि पदाधिकारी, सभी अंचलाधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments